‘टॉयलेट मैन’ के नाम से मशहूर बिंदेश्वर पाठक मरणोपरंता मिला ‘पद्म विभूषण’ सम्मान

सार्वजनिक शौचालयों के निर्माण में अग्रणी, सुलभ इंटरनेशनल (Sulabh International) के संस्थापक और सामाजिक कार्यकर्ता 80 साल के बिंदेश्वरी पाठक (Bindeshwar Pathak) को मरणोपरंत यह सम्मान दिया गया है. Edited by बिक्रम कुमार सिंह, Updated: 26 जनवरी, 2024 12:35 PM बिहार के रहने वाले विंदेश्वर पाठक को सामाजिक क्षेत्र में उत्कृष्ठ योगदान देने के लिए भारत सरकार की तरफ…

Bindeshwar Pathak : दामाद में हम ठगा गइली; कभी ससुर कहते थे बिंदेश्वर पाठक के लिए यह बातें, फिर गौरवान्वित हुए

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना Published by: आदित्य आनंद Updated Tue, 15 Aug 2023 06:55 PM IST सार Bihar News : दुनिया के पहले लोकतंत्र वैशाली की यह कहानी सचमुच प्रेरणादायी है। पद्म विभूषण डॉ. बिंदेश्वर पाठक को लेकर यहां किवदंतियां हैं, कहावतें हैं, कहानियां हैं। डॉ. पाठक की शुरुआती कहानी उनके घर-ससुराल से जानना बेहद रोचक है।…