Posted by & filed under Articles, Delhi, In the Press, India, Photos, Press Releases, Sulabh News.

September 19, 2017

Punjab News Express
NEW DELHI : India has more to offer to tourists than any other country but many prefer to stay away given the poor sanitation in the country, union HRD Minister Prakash Navadeskar said on Tuesday.

“We have more places worth visiting than any other country but Paris alone draws 10 times more tourists than entire India. You know why this is so? Because our tourist spots are not clean,” Javadekar said.

He was addressing a programme organised by Sulabh International to award students for the work done in keeping their schools clean.

The Minister said the same Indian who would not litter the streets of Singapore would not think twice before throwing a banana peel or a chocolate wrapper on the roads here.

Javadekar asked the students to herald “the cult of cleanliness” and said it is their parents who need more education to shed the notion that only certain people should do the work of cleaning.

The Minister praised Bindeshwar Pathak — who started Sulabh, a community toilet service at nominal price — for ushering in a “great revolution” towards sanitation.

“The creation of Sulabh is a historic step. And it has been 50 years since it was started… When it was first conceptualised, people thought who will pay to do this. But Pathakji made it possible by keeping them clean, and inculcating the same habit among others,” he said.

Pathak started Sulabh Shauchalaya service in 1970 from Bihar to cater especially to the poor. It provides bathing and laundry facilities as well.

About 4,50,000 toilets were built in government schools in one year under the Swachh Bharat Abhiyan, Javadekar said, resulting in more girl students coming to the schools instead of dropping out as was the case earlier.

During the event, 120 students were felicitated.

The exercise is part of the Sulabh School Sanitation Club of which 6,500 students from more than 200 schools are members.

The club aims at inculcating a habit of cleanliness among students from an early age.

Source : http://punjabnewsexpress.com/national/news/poor-sanitation-keeps-away-many-tourists-from-india-javadekar-66413.aspx

Posted by & filed under Articles, Delhi, In the Press, India, Photos, Press Releases, Sulabh News.

Logo

Javadekar asked students to herald “the cult of cleanliness”.

Sep 19, 2017 / Indo Asian News Service, New Delhi

Union HRD Minister Prakash Javadekar interacts with students.

Union HRD Minister Prakash Javadekar interacts with students.(PTI File Photo)

India has more to offer to tourists than any other country but many prefer to stay away given the poor sanitation in the country, union HRD Minister Prakash Javadekar said on Tuesday.

“We have more places worth visiting than any other country, but Paris alone draws 10 times more tourists than entire India. You know why this is so? Because our tourist spots are not clean,” Javadekar said.

He was addressing a programme organised by Sulabh International to award students for the work done in keeping their schools clean.

The Minister said the same Indian who would not litter the streets of Singapore would not think twice before throwing a banana peel or a chocolate wrapper on the roads here.

Javadekar asked the students to herald “the cult of cleanliness” and said it is their parents who need more education to shed the notion that only certain people should do the work of cleaning.

The Minister praised Bindeshwar Pathak — who started Sulabh, a community toilet service at nominal price — for ushering in a “great revolution” towards sanitation.

“The creation of Sulabh is a historic step. And it has been 50 years since it was started… When it was first conceptualised, people thought who will pay to do this. But Pathakji made it possible by keeping them clean, and inculcating the same habit among others,” he said.

Pathak started Sulabh Shauchalaya service in 1970 from Bihar to cater especially to the poor. It provides bathing and laundry facilities as well.

About 4,50,000 toilets were built in government schools in one year under the Swachh Bharat Abhiyan, Javadekar said, resulting in more girl students coming to the schools instead of dropping out as was the case earlier.

During the event, 120 students were felicitated.

The exercise is part of the Sulabh School Sanitation Club of which 6,500 students from more than 200 schools are members.

The club aims at inculcating a habit of cleanliness among students from an early age.

Source : http://www.hindustantimes.com/india-news/many-tourists-places-in-india-but-poor-sanitation-keeps-people-away-javadekar/story-VNrpWs9ReMJdqyivixlX6H.html

Posted by & filed under Articles, Delhi, In the Press, India, Photos, Press Releases, Sulabh News.

UNI

Sep 17, 2017

No

NEW DELHI, SEP 17 (UNI)-Bindeshwar Pathak, Founder Sulabh International and others unveilling a 567Kg Laddoo on the occasion of Prime Minister Narendra Modi’s birthday mark as a ‘Swachhta Divas’, at a function organised by Sulabh International, in New Delhi on Sunday. UNI PHOTO-40U

No

NEW DELHI, SEP 17 (UNI)-Bindeshwar Pathak, Founder Sulabh International and others unveilling a 567Kg Laddoo on the occasion of Prime Minister Narendra Modi’s birthday mark as a ‘Swachhta Divas’, at a function organised by Sulabh International, in New Delhi on Sunday. UNI PHOTO-41U

No

NEW DELHI, SEP 17 (UNI)-Bindeshwar Pathak, Founder Sulabh International and others unveilling a 567Kg Laddoo on the occasion of Prime Minister Narendra Modi’s birthday mark as a ‘Swachhta Divas’, at a function organised by Sulabh International, in New Delhi on Sunday. UNI PHOTO-`4U

No

NEW DELHI, SEP 17 (UNI)-Bindeshwar Pathak, Founder Sulabh International and others unveilling a 567Kg Laddoo on the occasion of Prime Minister Narendra Modi’s birthday mark as a ‘Swachhta Divas’, at a function organised by Sulabh International, in New Delhi on Sunday. UNI PHOTO-`43U

No

NEW DELHI, SEP 17 (UNI)-Bindeshwar Pathak, Founder Sulabh International and others lights the traditional lamp during the celebration of Prime Minister Narendra Modi’s birthday mark as a ‘Swachhta Divas’, at a function organised by Sulabh International, in New Delhi on Sunday. UNI PHOTO-`44U

No

NEW DELHI, SEP 17 (UNI)-Bindeshwar Pathak, Founder Sulabh International and others lights the traditional lamp during the celebration of Prime Minister Narendra Modi’s birthday mark as a ‘Swachhta Divas’, at a function organised by Sulabh International, in New Delhi on Sunday. UNI PHOTO-45U

No

NEW DELHI, SEP 17 (UNI)-Bindeshwar Pathak, Founder Sulabh International and others unveilling a 567Kg Laddoo on the occasion of Prime Minister Narendra Modi’s birthday mark as a ‘Swachhta Divas’, at a function organised by Sulabh International, in New Delhi on Sunday. UNI PHOTO-46U

 

Source : http://www.uniindia.com/photoes/150057.html#

Posted by & filed under Articles, Delhi, In the Press, India, Photos, Press Releases, Sulabh News.

DEVESH KR SHARMA Publish: Sep, 17 2017

#HappyBirthdaytoPM: सोशल मीडिया पर छाया रहा PM Modi का जन्मदिन

जहां देशभर में पीएम के जन्मदिन को सेवा दिवस के रुप मनाया गया। वहीं अलग-अलग क्षेत्रों के लोगों की ओर से सोशल मीडिया पर बधाई संदेशों का तांता लगा रहा।

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को 67 साल के हो गए हैं। नरेंद्र दामोदर दास मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 को गुजरात के वडनगर में हुआ था। जन्मदिन के मौके पर सुबह-सुबह गांधीनगर जाकर पीएम मोदी ने अपनी मां हीरा बा का आशीर्वाद लिया था। जहां देशभर में पीएम के जन्मदिन को सेवा दिवस के रुप मनाया गया। वहीं विभिन्न देशों से अलग-अलग क्षेत्रों के लोगों की ओर से सोशल मीडिया पर बधाई संदेशों का तांता लगा रहा। साथ पीएम के शुभचिंतकों और समर्थकों की ओर से उनके लिए कई विशेष तोहफे भेजे गए। सोशल मीडिया पर भी पीएम के लिए ग्रीटिंग कार्ड, स्कै च, केक समेत कई कलाकृतियों के चित्र शेयर किए गए। पीएम को शुभकामनाएं देने के लिए हैश टैग ‘हैप्पीबर्थडेटूपीएम’ दिनभर ट्रेंड में रहा।

प्रधानमंत्री के धुर-विरोधियों में से एक कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्विटर पर जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं। वहीं आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद ने लिखा ‘जन्मदिन की बधाई, भगवान आपको लंबी उम्र और स्वस्थ शरीर दे।’ जबकि कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने ट्विटर पर कहा, ‘मोदी जी को उनके जन्मदिन पर मेरी शुभकामनाएं। भगवान उन्हें अपनी गलतियों को स्वीकारने और उन्हें सुधारने की सदबुद्धि दे।’

वहीं केंद्रीय मंत्रियों, सांसदों और भाजपा नेताओं के अलग-अलग अंदाज में पीएम का जन्मदिन मनाया। इनके अलावा भारत में अमरीकी राजदूत ने ट्विटर पर अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप के साथ पीएम मोदी की फोटो शेयर की तो वहीं रूसी राजदूत आनातोली कांगापोलव ने पीएम मोदी को खुद अपने हाथ से हिंदी में पत्र लिखकर शुभकामनाएं दी। जबकि खेल जगत से पंकज आडवाणी, क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, सुरेश रैना, रोहित शर्मा और वीरेंद्र सहवाग जबकि फिल्म इंडस्ट्री से मंधुर भंडारकर, अनुपम खेर, अनिल कपूर और रणदीप हुडा ने भी शुभकामनाएं देते हुए अपने साथ के फोटो शेयर किए। इनके अलावा आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर ने भी पीएम मोदी को शुभकामनाएं दी। इसके अलावा दिल्ली सुलभ इंटरनेशनल संस्था की ओर से पीएम का जन्मदिन स्वच्छता दिवस के रुप में मनाते हुए बनाए गए 567 किलो का विशेष लड्डू लोकार्पित किया गया।

Source : https://www.patrika.com/miscellenous-india/happybirthdaytopm-pm-modi-birthday-celebration-on-twitter-1820609/

Posted by & filed under Articles, Delhi, In the Press, India, Photos, Press Releases, Sulabh News.

Latest News in Hindi

Narendra Modi Birthday

नई दिल्ली। आज भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्मदिन है। देशभर में भाजपा समेत कई संगठनों के लोग उनके जन्मदिन पर कार्यक्रम कर रहे हैं। दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन पर अनोखा सेलिब्रेशन हुआ। प्रधानमंत्री के जन्मदिन की 67वीं वर्षगांठ पर दिल्ली में 567 किलो के लड्डू का अनावरण किया गया।

सुलभ समूह ने किया कार्यक्रम

प्रधानमंत्री मोदी का यह जन्मदिन स्वच्छता दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। इसी कड़ी में दिल्ली के मावलंकर हॉल में सुलभ समूह ने 567 किलो के लड्डू के साथ यह दिवस मनाया। सुलभ समूह के चेयरमैन बिन्देश्वर पाठक ने इसका अनावरण किया। यह लड्डू 230 किलो बेसन 221 किलो चीनी 106 किलो देसी घी और 120 दिनों की मेहनत के बाद तैयार हुआ है।

प्रधानमंत्री की तश्वीर को खिलाया लड्डू

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस पर बनाये गये इस महालड्डू को तोड़कर उनकी तश्वीर को खिलाया गया। इसके साथ ही गीत संगीत बजाकर लोगों ने खुशियाँ मनाई। सुलभ समूह के चेयरमैन ने कहा कि हम 3 साल से प्रधानमंत्री मोदी का जन्मदिन मानते आ रहे हैं।

मोदी ने लिया माँ से आशीर्वाद

अपने 67वें जन्मदिन के इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी गुजरात के दौरे पर हैं। मोदी ने आज सुबह अपनी माँ हीरा बा से आशीर्वाद लिया। उन्होनें आज नर्मदा नदी पर बने सरदार सरोवर बाँध को देश को समर्पित किया। प्रधानमंत्री के जन्मदिन के मौके पर भारतीय जनता पार्टी देश भर में बिभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर जन्मदिन मना रही है।

Source : http://www.khabarnonstop.com/2017/09/17/narendra-modi-birthday-celebration/

Posted by & filed under Articles, Delhi, In the Press, India, Photos, Press Releases, Sulabh News.

AajTak-Hindi News

आशुतोष मिश्रा [Edited By: अनुग्रह मिश्र]

 

नई दिल्ली, 17 सितंबर 2017

सुलभ इंटरनेशनल के प्रमुख ने मनाया मोदी का बर्थडे

सुलभ इंटरनेशनल के प्रमुख ने मनाया मोदी का बर्थडे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 67वीं सालगिरह पर दिल्ली में 567 किलो के लड्डू का अनावरण किया गया. दिल्ली के मावलंकर हॉल में सुलभ समूह के चेयरमैन बिंदेश्वर पाठक ने प्रधानमंत्री मोदी के जन्म दिवस के मौके पर 567 किलो के इस महालड्डू का अनावरण किया. यह लड्डू 230 किलो बेसन 221 किलो चीनी 106 किलो देसी घी और 120 दिनों की मेहनत के बाद तैयार हुआ है.

पीएम मोदी के जन्म दिवस को स्वच्छता दिवस के तौर पर मनाते हुए इस मौके पर प्रधानमंत्री की तस्वीर को भी महालड्डू में से लड्डू तोड़कर खिलाया गया. लड्डू काटने की रस्म के साथ ही गीत-संगीत से प्रधानमंत्री को जन्म दिवस की बधाई भी दी गई. सुलभ समूह के मुखिया बिंदेश्वर पाठक ने ‘आजतक’ से बातचीत में कहा की पिछले 3 साल से प्रधानमंत्री का जन्म दिवस मनाते आ रहे हैं और इस साल भी उन्होंने 500 किलो का लड्डू और उनके 67वीं सालगिरह के उपलक्ष्य में कुल 567 किलो का लड्डू बनवाया है.

Source : http://aajtak.intoday.in/story/happy-birthday-narendra-modi-wishes-laddu-sweet-shulabh-international-1-952889.html

Posted by & filed under Articles, Delhi, In the Press, India, Photos, Press Releases, Sulabh News.

Sun, Sep 17 2017

Bindeshwar Pathak celebrates PM Modi's birth day - Narendra Modi

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi’s birth day being celebrated with a 267 kg jumbo laddu in New Delhi on Sept 17, 2017.

Bindeshwar Pathak celebrates PM Modi's birth day - Narendra Modi

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi’s birth day being celebrated with a 267 kg jumbo laddu in New Delhi on Sept 17, 2017.

Bindeshwar Pathak celebrates PM Modi's birth day - Narendra Modi

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi’s birth day being celebrated with a 267 kg jumbo laddu in New Delhi on Sept 17, 2017.

Bindeshwar Pathak celebrates PM Modi's birth day - Narendra Modi

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi’s birth day being celebrated with a 267 kg jumbo laddu in New Delhi on Sept 17, 2017.

Bindeshwar Pathak celebrates PM Modi's birth day - Narendra Modi and Bindeshwar Pathak

New Delhi: Sulabh International, an India-based social service organisation Founder Bindeshwar Pathak celebrates the birth day of Prime Minister Narendra Modi with a 267 kg jumbo laddu accompanied by children in New Delhi on Sept 17, 2017.

Bindeshwar Pathak celebrates PM Modi's birth day - Narendra Modi and Bindeshwar Pathak

New Delhi: Sulabh International, an India-based social service organisation Founder Bindeshwar Pathak celebrates the birth day of Prime Minister Narendra Modi with a 267 kg jumbo laddu accompanied by children in New Delhi on Sept 17, 2017.

Bindeshwar Pathak celebrates PM Modi's birth day - Narendra Modi and Bindeshwar Pathak

New Delhi: Sulabh International, an India-based social service organisation Founder Bindeshwar Pathak celebrates the birth day of Prime Minister Narendra Modi with a 267 kg jumbo laddu accompanied by children in New Delhi on Sept 17, 2017.

Bindeshwar Pathak celebrates PM Modi's birth day - Narendra Modi and Bindeshwar Pathak

New Delhi: Sulabh International, an India-based social service organisation Founder Bindeshwar Pathak celebrates the birth day of Prime Minister Narendra Modi with a 267 kg jumbo laddu accompanied by children in New Delhi on Sept 17, 2017.

Bindeshwar Pathak celebrates PM Modi's birth day - Narendra Modi and Bindeshwar Pathak

New Delhi: Sulabh International, an India-based social service organisation Founder Bindeshwar Pathak celebrates the birth day of Prime Minister Narendra Modi with a 267 kg jumbo laddu accompanied by children in New Delhi on Sept 17, 2017.

Bindeshwar Pathak celebrates PM Modi's birth day - Narendra Modi and Bindeshwar Pathak

New Delhi: Sulabh International, an India-based social service organisation Founder Bindeshwar Pathak celebrates the birth day of Prime Minister Narendra Modi with a 267 kg jumbo laddu accompanied by children in New Delhi on Sept 17, 2017.

Bindeshwar Pathak celebrates PM Modi's birth day - Narendra Modi and Bindeshwar Pathak

New Delhi: Sulabh International, an India-based social service organisation Founder Bindeshwar Pathak celebrates the birth day of Prime Minister Narendra Modi with a 267 kg jumbo laddu accompanied by children in New Delhi on Sept 17, 2017.

 

Source : http://www.prokerala.com/news/photos/bindeshwar-pathak-celebrates-pm-modi-s-birth-day-300667.html#photo-1

Posted by & filed under Articles, In the Press, India, Photos, Press Releases, Sulabh News, Uttar Pradesh.

Hindustan Hindi News

लाइव टीम, कानपुर : 15 सितम्बर, 2017
बिंदेश्वर पाठक
सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक बिंदेश्वर पाठक का कहना है कि विश्व का सबसे बड़ा शौचालय भारत में बन रहा है। यह शौचालय महाराष्ट्र के पूना बार्डर के पास पंडारपुर में आधा बनकर काम भी करने लगा है। इस शौचालय में 2,858 सीटें हैं। इससे पहले चीन में 1000 सीट का शौचालय था।
4 लाख लोग हर दिन करेंगे इस्तेमाल
कानपुर के पहले अोडीएफ गांव ईश्वरीगंज में अायोजित राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के कार्यक्रम में शामिल होने अाए बिंदेश्वर पाठक देश में चल रहे स्वच्छता अभियान को लेकर उत्साहित है। उन्होंने लैंडमार्क होटल में ‘हिन्दुस्तान’से बातचीत में कहा कि महाराष्ट्र में बन रहा शौचालय आधा बन चुका है। इसका इस्तेमाल दो लाख लोग कर रहे हैं। जल्द ही शौचालय पूरा बनकर तैयार हो जाएगा। फिर 4 लाख लोग हर दिन इस शौचालय का इस्तेमाल करेंगे।
पीएम ने सौंपी है बड़ी जिम्मेदारी
उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ने उनको एक पत्र लिखा है। उनकी मंशा है कि 2 अक्टूबर 2019 तक भारत स्वच्छ अभियान का लक्ष्य पूरा कर ले। इस संबंध में प्रधानमंत्री ने सुझाव मांगे हैं। उनका कहना है कि एक शौचालय बनाने में 12 हजार रुपए के बजाय 25 हजार रुपए दिए जाए। इससे 10 फीसदी शौचालय के मानीटरिंग करने वाले को मिल जाएंगे। पांच फीसदी देखरेख करने वाली कंपनी को मिल सकते हैं। इस संबंध में उन्होंने सरकार को यह सुझाव पहले ही दिया है कि हर गांव में एक लड़के को प्रशिक्षित कर शौचालय की देखभाल के लिए रखा जाए। यह भी शर्त होनी चाहिए कि एक साल में शौचालय खराब होने पर मुफ्त में बनाया जाए। उन्होंने जानकारी दी कि देश में 6 लाख 44 हजार गांव हैं। सुलभ इंटरनेशनल 15 लाख घरों और 9 हजार सार्वजनिक स्थान में शौचालय बना चुकी है। देश में 8 करोड़ शौचालय की जरूरत है।

Posted by & filed under Articles, Bihar, In the Press, India, Photos, Press Releases, Sulabh News.

दैनिक जागरण

Tue, 12 Sep 2017.

हरिहरनाथ मंदिर के सत्संग भवन का हुआ उद्घाटन

सोनपुर में अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त वातानुकूलित सत्संग भवन का उद्घाटन करते हुए

वैशाली। सोनपुर में अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त वातानुकूलित सत्संग भवन का उद्घाटन करते हुए

सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक पद्मभूषण डॉ. ¨वदेश्वर पाठक ने स्वच्छता अभियान की ओर इशारा करते हुए कहा की हम महात्मा गांधी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच सेतु का काम कर रहे हैं। सिर पर मैला ढ़ोने की प्रथा को समाप्त करने में सुलभ इंटरनेशनल ने महती भूमिका निभाई है। महात्मा गांधी के स्वच्छ भारत की कल्पना को सुलभ संस्थान ने बहुत पहले ही मूर्त रूप देना आरंभ कर दिया था।

उन्होंने कहा की प्रशंसा करने वाले लोग महान होते हैं। संत वही हैं, जिन्होंने अपनी इच्छाओं पर नियंत्रण कर लिया है।

डॉ. पाठक सोमवार को सोनपुर के प्रसिद्ध बाबा हरिहरनाथ मंदिर के प्रांगण में नवनिर्मित सत्संग भवन का उद्घाटन करने के उपरांत आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे।

इसी बीच उन्होंने मंदिर के विकास के लिए 20 लाख रुपये देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि जहां तनाव होगा वहां विकास नहीं होगा। जहां अहंकार है, वहीं विनाश है। शक्ति का प्रयोग भक्ति के साथ होना चाहिए।

समारोह को संबोधित करते हुए डीजी सह बाबा हरिहरनाथ मंदिर न्यास समिति के अध्यक्ष गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि बड़ा वह होता है जो सामने वाले को छोटेपन का आभास न होने दे। चित में संचित उत्तम विचार ही संस्कार हैं। हर आदमी उसी परमपिता का ही एक अंश है। घृणा, ईष्या, क्रोध व ¨नदा करने वाले लोग दया के पात्र होते हैं, घृणा के नहीं। चेतना के स्तर में परिवर्तन होना चाहिए। इसी क्रम में लोक सेवा आश्रम के संत विष्णु दास उदासीन मौनी बाबा ने भी अपने विचार रखे।

अतिथियों का स्वागत पत्रकार स्वयंप्रकाश ने किया। कार्यक्रम का संचालन न्यास समिति के कोषाध्यक्ष निर्भय कुमार ने किया। धन्यवाद ज्ञापन संपादक सह न्यास समिति के सदस्य दीपक पांडेय ने किया। इसके पूर्व न्यास समिति के सचिव विजय कुमार ¨सह लल्ला तथा नगर पंचायत के अध्यक्ष अमजद हुसैन ने मंदिर के प्रवेश-द्वार पर आगत अतिथियों का भव्य स्वागत किया। समिति के तत्वाधान में मंच पर डॉ. पाठक सहित सभी विशिष्ट अतिथियों को बाबा हरिहरनाथ के चित्र तथा शॉल भेंट कर सम्मानित किया गया। डॉ. पाठक को चांदी का मुकुट भी पहनाया गया। इस अवसर पर अमनौर के विधायक शत्रुघ्न तिवारी, राज किशोर ¨सह, राम विनोद ¨सह, कांग्रेस के पूर्व प्रखंड अध्यक्ष सुरेश ¨सह तरुण, भाजपा के जिलाध्यक्ष नरेषु ¨सह, कुमार गोपाल ¨सह, धनंजय ¨सह, न्यास समिति सदस्य प्रो. चंद्रभूषण तिवारी, कृष्णा, दिनेश सहनी आदि मौजूद थे।

By Jagran 
Source : http://www.jagran.com/bihar/vaishali-inauguration-of-satsanga-bhawan-of-hariharanath-temple-16696342.html

Posted by & filed under Articles, Bihar, Blog, In the Press, Photos, Press Releases, Sulabh News.

September 11, 2017

सोनपुर। दिल्ली के लाल किले से पहली बार स्वच्छता की बात करनेवाले अकेले पीएम हैं मोदी जी। महात्मा गांधी के बाद वे पहले व्यक्ति हैं, जिन्होंने स्वच्छता को इतनी प्रमुखता दी। वे स्वच्छता संस्कृति को बदल रहे हैं। महात्मा गांधी ने कहा था- हमें स्वच्छ भारत पहले चाहिए, आजादी बाद में। गांधी और पीएम मोदी के बीच स्वच्छता एक सेतु है, जिसका नाम है सुलभ। भगवान राम लंकापति रावण को पराजित नहीं कर पाते यदि सेतु नहीं होता। सुलभ ही स्वच्छता अभियान का आधार बना। पीएम का यह स्वच्छता कार्यक्रम बिहार की देन है। 1968 से सुलभ यह कार्यक्रम चला रहा है। आज यह आदोलन का रूप ले चुका है। पीएम की घोषणा के बाद इसमें और गति आई है। इसे एक नया आयाम मिला है।

ये बातें सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक डॉ विंदेश्वर पाठक ने कहीं। वे बाबा बरिबरनाथ मंदिर में सत्संग भवन का उद्घाटन करने के बाद बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि मेरे पास शब्द नहीं। स्वागत से अभिभूत हूं। दूसरे की प्रशंसा में आदमी का जीवन कट जाता है, जिसकी प्रशंसा की जा रही है, उससे महान वो है, जो प्रशंसा कर रहा है। सोनपुर से मेरा पुराना लगाव है। मैं शिवभक्त हूं। उन्होंने शिव पंचाक्षर स्तोत्र का सस्वर पाठ किया। और इसके बाद तो उनके ज्ञान-सत्संग की धारा बने लगी। श्रोता सुनते रहे। तालियां, आह, वाह। कहा- पूजा-पाठ संस्कृतियां हैं। धर्म शाश्वत, सनातन है। जिसमें पिरवर्तन है। जैसे अग्नि जलाती है, यह उसका धर्म है। हमारा धर्म दया करना है। मिल-जुल कर रहें-धर्म है। सभी संस्कृतियों का सम्मान करें। ऐसे में एक-दूसरे से झगड़ा होगा ही नहीं।

संसार में भगवान ने जब सृष्टि का निर्माण किया तो मानव को सदगुण दिया। साथही अहंकार, लोभ, मोह, वासना व माया से भर दिया। फिर कहा संसार में जाओ। मनुष्य चार भाग में पैदा होता है। पहला संत- जिसका इच्छाओं पर नियंत्रण हो या इच्छा समाप्त हो गई हो, प्राकृतिक संपदा का उपयोग सबसे कम करता हो, जैसे गांधी जी। दूसरा साधु- शदी नहीं करे, ब्रह्मचर्य का पालन, त्याग-तपस्या-साधना से ऊर्जा, शक्ति, ज्ञान मिले और उसे समाज में बांटते हैं कि अच्छा जीवन कैसे जिएं। तीसरा इंसान- जितनी कमजोरियां ईश्वर ने दी हैं, अहंकार, लोभ, क्रोध, मोह, माया- ये सब जितना कम हो करे, गृहस्ताश्रम में। जीवन जीते हैं दूसरों के लिए, दूसरों की सहायता करते हैं। चौथा हैवान- कमजोरियों को बढ़ा लेते हैं, लूटना, मारना, छीनना, तंग करना-दुख देने के उपाय हैं।

पहला वाकया उन्होंने शरलॉक होम्स संबंधी सुनाया। होम्स अपने घर पर बैठे थे। उनके साथ उनका मित्र भी था। इसी बीच डाकिया पत्र दे गया। होम्स ने डाक को फाड़ा। चिट्ठी पढ़ी। और पत्र रख दिया। होम्स कुछ बोले नहीं। मित्र से नहीं रहा गया, पूछ बैठा- क्या है पत्र में। होम्स ने कहा- एक हत्या हो गई है, उसको सुलझाना है। सरकार पैसे कम देती है, पर काम तो करना है।

दूसरा वाकया। एक पंडितजी ने चिड़िया को देखा।वो जल कर फस्म हो गई। होटल में बैठे। उधर लसे ही मुर्दा जाता था। होटल का नौकर मुर्दा के पीछे लग जाता। लौटकर कहता- यह स्वर्ग में गया होगा। दूसरे मुर्दा के पीछे फिर नौकर गया। लौटकर बोला- यह नरक में गया होगा। पंडितजी से नहीं रहा गया। उन्होंने दुकानदार से पूछा नौकर क्या कहता है। उसने कहा-इतना भी नहीं जानते। जब कोई मरता है तो उसके दो भाग होते हैं- राम नाम सत्य है। फिर लोग कहते हैं भला आदमी था, मर गया। दूसरे में कहते हैं- भले मर गया बड़ा पापी था। तो सेवा से कीर्ति और नाम बना रहता है। हमारे हां वसुधैव कुटुंबकम कहा गया। ईश्वर जीव का निर्माण करता है।

तीसरा वाकया। अहंकार रोकें। अब्राहम लिंकन अमेरिका के राष्ट्रपति चुने गये। ह्वाइट हाउस के एक सिनेटर ने कहा- मिस्टर प्रेसिडेंट, आपके पिताजी मेरे पिताजी के जूते सीते थे। लिंकन ने जवाब दिया- यदि आपको जूते सिलवाना हो तो मेरे पास भेज दीजिएगा। मैं भी बढ़िया जूता सीता हूं। धन, ज्ञान, शक्ति के अहंकार पर जो नियंत्रण कर लिया वह महान है। ईमानदार रहने पर ही सिर ऊंचा कर सकते हैं।

चौथी कहानी ब्रिटेन के पीएम चर्चिल की है। चर्चिल ने एक बच्चे को पढ़ाया। आगे चल कर वो बड़ा डॉक्टर बन गया। चर्चिल एक बार बीमार पड़े। ठीक नहीं हो रहे थे। उन्हें उस बच्चे की याद आई,जो डॉक्टर बन गया था। उस डॉक्टर ने चर्चिल को ठीक कर दिया। वो डॉक्टर थे- एलेक्जेंडर फ्लेमिंग, जिन्होंने पेंसिलिन का आविष्कार किया था।

अध्यक्षीय भाषण बाबा हरिहरनाथ मंदिर न्यास समिति के अध्यक्ष डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि बड़ा वो जिसके सामने छोटा से छोटा आदमी भी अपने को छोटा महसूस न करे। यही बड़प्पन है। अच्छा काम करने पर लोग उपहास उड़ाएंगे-यह प्रथम चरण है। दूसरे चरण में संघर्ष करेंगे, विरोध भी और लौट जाएंगे। तीसरे चरण में नहीं मानेंगे कि आपने अच्छा काम किया, उपहास, विरोध होता रहेगा। पर ऐसे में रुकना नहीं है। काम करते जाना है। सुकरात को जहरल पीना पड़ा था। जैसे पाठक जी ने 50 साल पहले जो काम शुरू किया था तब कितनी परेशानियां सहीं होंगी। आज देश ही नहीं दुनिया में सुलभ को सब जानते हैं।

डीजीपी ने कहा कि सूतजी को 88 हजार ब्राह्मण ऋषि-महर्षियों ने उनसे ज्ञान लिया। उनके कर्म के कारण। जबकि वो ब्राह्मण नहीं थे। कर्म से चेतना में बदलाव होता है। चेतना गिरती है तो समाज टूटता है।  सत्संग, अध्ययन, सेवा से चेतना ऊंची होती है। उन्होंने कहा- जीना क्या जब देना नहीं सीखे। तमोगुणी दया के पात्र हैं। वे घृणा के पात्र कदापि नहीं हैं। शेर भी पढ़ा-

जहां भी जाएगा चिराग जलाएगा, रोशनी का कोई मकां नहीं होता।

शुरू में डॉ पाठक ने मंदिर में सपत्नीक पूजा-अर्चना की। मंच पर उनके साथ उनकी पत्नी अमोला पाठक, सुलभ इंटरनेशनल की सीनियर वाइस प्रेसिडेंट श्रीमती आभा कुमार, मौनी बाबा अमनौर के भाजपा विधायक शत्रुघ्न तिवारी, सोनपुर नगर पंचायत के अध्यक्ष अमजद हुसैन थे। डॉ पाठक व अमोला पाठक पर मंत्रोच्चार के साथ पुष्प वर्षा की गई। उन्हें चांदी के मुकुट से सम्मानित किया गया।  मंदिर न्यास समिति के ट्रस्टी व आज के संपादक दीपक पांडे ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

समिति के सचिव विजय कुमा  लल्ला ने बताया कि डॉ पाठक ने 20 लाख रुपये मंदिर के विकास कार्यों के लिए दान देने की घोषणा की। डॉ पाठक ने मंदिर के विकास कार्यों की सराहना की। इस अवसर पर नवनिर्मित सत्संग भवन खचाखच भरा था। सत्संग की लहरों में लोग हिलोरे ले रहे थे। कोई अपनी जगह से हिलने का नाम नहीं ले रहा था। शुरू में कल्याणी ने स्वागत गान और राम भजन से सबका मन मोह लिया। सभी लोगों ने अंत में प्रसाद ग्रहण किया।

Source : https://www.hellobihar.in/bihar/modi-is-the-first-person-to-run-cleanliness-program-after-gandhi-dr-bindeshwar-pathak