Posted by & filed under Articles, In the Press, India, Press Releases, Sulabh News, Uttar Pradesh.

Sun, 04 Dec 2016

बिना शौचालय को मिल जाता है निर्मल गांव का दर्जा : सुरेंद्र प्रसाद

स्वच्छ भारत अभियान के तहत इटहरा में शौचालयों का हुआ लोकार्पण

जौनपुर: सुलभ इंटरनेशनल सोशल सर्विस आर्गनाइजेशन के चेयरमैन पद्मभूषण डा.¨वदेश्वर पाठक ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शौचालय को तरजीह दी है। उनका सपना है कि 2019 तक हर घर में शौचालय हो। यह सपना हमें पूरा कना है। हर घर में शौचालय बने, इसके लिए हाथ बंटाना है। खुले में शौच करने से 50 तरह की बीमारी होती है।

वे डोभी ब्लाक के इटहरा गांव में निर्मित वैयक्तिक शौचालयों का लोकार्पण के बाद आयोजित समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार शौचालय के नाम पर 12 हजार रुपये देती है। इतने में अच्छा शौचालय बनना मुश्किल हैं। हमें अपने पास से भी सहयोग कर बेहतर शौचालय बनवाना चाहिए। व्यवस्था की खिल्ली उड़ाते हुए कहा कि किसी भी गांव को निर्मल गांव घोषित कर सिर्फ पुरस्कार बंट रहा है, शौचालय है ही नहीं। विद्यालय में शौचालय नहीं होने से लड़कियां पढ़ने नहीं जाती थीं। अब शौचालय बन जाने से स्कूल जाने लगी हैं। यह बालिका शिक्षा में सहायक साबित हुआ है। हमने देश भर में लोगों को जल, कुआं, चापाकल, बो¨रग की स्वच्छता, स्वास्थ्य संबंधी रोकथाम एव उपचार, मोबाइल, लैपटाप, बाइक, साइकिल की मरम्मत, सौर, जैव, पारंपरिक ऊर्जा, पेट्रोमैक्स, बीज, खाद एवं पौधों का उपयोग करने के लिए जागरूक किया।

मैंने 1968 से इस अभियान की शुरूआत की। आज देश में साढ़े 8 हजार सार्वजनिक व 20 हजार स्कूलों में सुलभ शौचालय बनाए गए हैं। इसका लाभ 2 करोड़ लोगों को मिल रहा है।

विशिष्ट अतिथि गांव के निवासी वरिष्ठ पत्रकार सुरेंद्र प्रसाद ¨सह ने कहा कि गांव की हालत किसी से छिपी नहीं है। मेरा गांव सरकारी कागज में निर्मल गांव दर्ज है जबकि हकीकत में एक-दो घरों को छोड़ किसी के पास शौचालय नहीं। पेयजल की हालत तो और बदतर है। बीमारियों की वजह सिर्फ गंदगी है। इससे पूर्व डा.पाठक ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। तत्पश्चात नवनिर्मित शौचालयों का लोकार्पण हुआ। गांव के बुजुर्ग जत्तन ¨सह ने शाल भेंट कर उनको गांव का अभिभावक बनाया। मंच पर ग्राम प्रधान अर¨वद ¨सह, ब्लाक प्रमुख शंकर यादव, पारस ¨सह, अखिलेश ¨सह भी मौजूद रहे। समारोह में जिला पंचायत सदस्य वरूण ¨सह, र¨वद्र ¨सह, डा.हर्ष वर्धन ¨सह, रामप्रकाश ¨सह, जितेंद्र बहादुर ¨सह, कपिल देव ¨सह, हरिनाम ¨सह, अरूण ¨सह, तहसीलदार ¨सह, मोती वर्मा आदि उपस्थित रहे। संचालन विनीता जौहरी ने किया।

मुख्यमंत्री को सराहा

कार्यक्रम में ही डा.विदेंश्वर पाठक ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की जमकर सरहाना की। उनके कामकाज को बेहतर बताते हुए कहा कि राजनीति में इतना संस्कारी व मर्यादित व्यक्ति कम ही मिलते हैं। आज नहीं तो कल वे प्रधानमंत्री बनेंगे।

Source : http://www.jagran.com/uttar-pradesh/jaunpur-15149082.html