Posted by & filed under Articles, Blog, In the Press, International, Photos, Press Releases, Sulabh News.

Amar Ujala

अमर उजाला ब्यूरो

Updated Wed, 23 Nov 2016

Widows returned home after see the Eiffel Tower

एफिल टावर देख स्वदेश लौटीं विधवाएं

वृंदावन और वाराणसी की दो विधवा महिलाओं ने फैशन की राजधानी पेरिस पहुंचकर एफिल टॉवर का भ्रमण किया।

सामाजिक संस्था सुलभ इंटरनेशनल की ओर से संचालित वृंदावन के विधवा आश्रम में रह रहीं 93 वर्ष की मानू घोष और वाराणसी में रह रहीं 70 वर्षीय गौरवानी शील को यूरोप की प्रतिष्ठित फोटोग्राफ  प्रदर्शनी में शामिल होने का निमंत्रण मिला। उम्र के आखिरी पड़ाव पर ये दोनों विधवा महिलाएं फ्रांस के शहर मानिटर एन डेर की विश्व प्रसिद्ध फोटो प्रदर्शनी में शामिल होकर भारत लौटीं हैं।

सुलभ इंटरनेशनल के पीआरओ मदन झा ने बताया कि अपनी यात्रा के दौरान उन्होंने दुनियाभर के सैलानियों के आकर्षण का केंद्र पेरिस के एफिल टॉवर के सामने फोटो भी खिंचाया। यह उनकी जिंदगी की धरोहर बन गया है। सप्ताह भर की यात्रा के दौरान इन महिलाओं ने फ्रांस के दूसरे शहरों को भी देखा। फ्रांस की सफाई और सुंदरता देख ये महिलाएं मोहित हो गईं। उन्होंने बताया कि इस प्रदर्शनी के दौरान एक परिचर्चा में सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक डॉक्टर बिंदेश्वर पाठक ने हिस्सा भी लिया। डॉक्टर पाठक ने कहा कि उन्हें इस बात का गर्व है कि वे वृंदावन और वाराणसी की हजारों विधवाओं का यहां प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

Source : http://www.amarujala.com/uttar-pradesh/mathura/widows-returned-home-after-see-the-eiffel-tower